कर्नल दिनेश पठानिया सहित 5 सैनिकों की आजीवन कारावास की सजा निलंबित, मिली जमानत

कश्मीर में फर्जी मुठभेड़ के लगे थे आरोप

नई दिल्ली (महानाद) : बहुचर्चित माछिल फर्जी मुठभेड़ मामले में सजा पाये 5 सेना के जवानों की आजीवन कारावास की सजा निलंबित कर दी गई। साथ ही सजा भुगत रहे जवानों को जमानत पर रिहा कर दिया गया।

जम्मू-कश्मीर के माछिल में 29 और 30 अप्रैल 2010 की दरमियानी रात में हुए फर्जी मुठभेड़ में 3 कश्मीरियों की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में कोर्ट ने 2 सेना के अधिकारियों और 3 जवानों को दोषी पाया था। इसके बाद देशभर में इसकी चर्चा हुई थी।

सेना की गोलीबारी में मारे गये लोगों की पहचान बारामूला जिले के नदीहाल इलाके के रहने वाले मोहम्मद शाफी, शहजाद अहमद और रियाज अहमद के रूप में की गई थी। उन्हें कथित तौर पर सीमावर्ती इलाके में ले जाकर गोली मारी गई। सेना का कहना था की सभी पाकिस्तानी थे।

एक अधिकारी ने बताया, ‘सैन्य ट्रिब्यूनल ने कर्नल दिनेश पठानिया, कैप्टन उपेंद्र, हवलदार देवेंद्र कुमार, लांस नायक लखमी और लांस नायक अरुण कुमार का आजीवन कारावास निलंबित कर दिया गया और उन्हें जमानत दे दी गई है।’

ट्रिब्यूनल कोर्ट के फैसले के बाद कर्नल दिनेश पठानिया के वकील अमन लेखी ने कहा, ‘ट्रिब्यूनल का बड़ा फैसला है। मैं खुश हूं।’

सेना के सूत्रों ने कहा कि ट्रिब्यूनल ने केवल आजीवन कारावस को निलंबित किया है। अंतिम फैसला जल्द आएगा। पांच जवानों को 2014 में आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी। सभी ने बाद में ट्रिब्यूनल में सजा को चुनौती दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

रेप का मामला SSP के पास पहुंचा तो सिपाही ने युवती से कर ली शादी     |     छात्रा की हत्या कर ऑटो चालक ने खुद को मारी गोली     |     घुसपैठियों के खिलाफ राज ठाकरे ने निकाला मेगा-मोर्चा, कहा – पाकिस्तानी और बांग्लादेशियों को भगाना ही चाहिए     |     अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यक्रम का नाम बदलकर किया गया ‘नमस्ते ट्रंप’, जारी किए गए नए पोस्टर     |     जसपुर में शिवरात्रि पर न.पा./पुलिस से व्यवस्था दुरूस्त करने की मांग     |     रोमा जैन को यूथ कांग्रेस कार्यकर्ता व वोटरों का मिल रहा है व्यापक अटूट सहयोग     |     ट्रेन में पत्नी व बेटी के लिए बैठने की जगह मांगी तो यात्रियों ने शख्स को पीट-पीटकर मार डाला     |     बड़े हादसे के इंतजार में विद्युत विभाग, कभी भी आबादी के ऊपर गिर सकते है विद्युत पोल     |     मोदी-राहुल एक-दूसरे पर अपराधियों को टिकट देने पर सवाल खड़े करते हैं, लेकिन 5 साल में भाजपा और कांग्रेस ने 30-30% टिकट दागियों को बांटे     |     प्रेम के आड़े आ रहा था इसलिये कर दी प्रेमिका के भाई की हत्या     |    

WhatsApp us