मिडिल स्कूल के प्रधानाचार्य को सपना देखने के दो वर्ष बाद मिला फालुन दाफा

बेंगलुरु (महानाद) : बेंगलुरु में रहेने वाले मिडिल स्कूल प्रिंसिपल के बारे में एक कहानी, जिन्हें चिंतामणि नाम के शहर में जाना जाता है।
कुछ साल पहले प्रिंसिपल वर्की ने एक सपना देखा, जिसमें उन्होंने कई लोगों को एक बड़े चौराहे पर चीनी साधना प्रणाली का अभ्यास करते देखा। वे अचंभित हो गए और जागने के बाद इस अभ्यास को ढूँढने लगे।

दो वर्षों के बाद, सौभाग्य से, उन्हें पता चला की उस अभ्यास को फालुन दाफा (जिसे फालुन गोंग के रूप में भी जाना जाता है) कहा जाता है और यह नि:शुल्क सिखाया जाता है। उन्होंने अपने छात्रों और शिक्षकों को सिखाने के लिए तुरंत ही इस आत्म-सुधार साधना अभ्यास के स्वयंसेवकों को आमंत्रित किया। अभ्यास करने के बाद उन्होंने कहा की वे अब अधिक ऊर्जावान महसूस कर रहे हैं। छात्रों ने भी अपनी पढ़ाई पर बेहतर ध्यान केंद्रित होने की बात कही।

प्रिंसिपल वर्की ने साधकों को फिर से आमंत्रित किया। स्कूल के प्रवेश द्वार पर उन्होंने बड़े सोने के अक्षरों को देखा जहाँ लिखा था : “फालुन दाफा अच्छा है” और “सत्य-करुणा-सहनशीलता।” प्रिंसिपल वर्की और उनकी पत्नी रोज़मा ने परिसर में स्थित अपने घर में साधकों को आमंत्रित किया। रोज़मा ने उन्हें एक अद्भुत कहानी सुनाई।
एक सुबह, उन्होनें अपने घर में एक चमकदार फालुन सिद्धांत चक्र प्रतिक घूमता हुआ देखा हालांकि वे फालुन की आंतरिक संरचना को स्पष्टता से नहीं देख पाईं। यह घूमता हुआ छत की ओर बढ़ने लगा। वे आश्चर्यचकित होकर देखने लगी और वह छत पर पहुँचकर रुक गया।
रोज़मा ने कहा, “फालुन से अत्यंत उज्ज्वल चमकदार प्रकाश निकल रहा था, और उसके अंदर मैंने रंगीन स्वरूप देखे।”

600 से अधिक छात्रों और कर्मचारियों ने स्वयंसेवकों से पांच फालुन दाफा अभ्यास सीखे। उसके बाद छात्रों ने अपनी सुबह की पढाई में ज़ुआन फालुन को पढ़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ढिकुली में कार-बाइक की आमने सामने की टक्कर में बाइक सवार की मौत     |     भारत सरकार की बड़ी उपलब्धि है एनआरसी बिल     |     लूट के माल सहित 3 लुटेरे गिरफ्तार     |     बिजली चोरी में डेढ़ दर्जन पर केस     |     ग्राम समाज की बैठक हुई सम्पन्न     |     एडीएम कांडपाल पर उत्पीड़न का आरोप लगा कलेक्ट्रेट के राजस्व कर्मचारियों ने मुख्य सचिव को भेजा सामूहिक इस्तीफा     |     कुर्सी एक अधिकारी दो! विभागीय लापरवाही या कुर्सी में मलाई?     |     वन विभाग ने छापा मारकर बंद करवाई अवैध आरा मशीन     |     वक्फ बोर्ड ने मस्जिदों से कहा : तैयार रखें मुस्लिमों के कागजात     |     400 छक्के लगाने वाले भारत के पहले बल्लेबाज़ बने रोहित शर्मा     |    

WhatsApp us