जसपुर में अर्धनग्न महिला का शव मिलने के मामले में चार नामजद

▪ 15 वर्ष पूर्व हुआ था प्रेम विवाह
▪ दहेज हत्या की आशंका
▪ जल्द होगा खुलासा-कोतवाल

पराग अग्रवाल
जसपुर (महानाद) : हाईवे से दो सौ मीटर खेत में अर्धनग्न अवस्था में मिली मृत महिला के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मुंह दबाकर मार डालने का खुलासा होने पर मृतका के भाई ने दहेज की खातिर उसकी बहन की हत्या करने का शक जाहिर करते हुए पति समेत चार लोगों के खिलाफ नामदर्ज रिपोर्ट कोतवाली में दर्ज कराई है।

आपको बता दें कि क्षेत्र के ग्राम मलपुरी निवासी राजेंद्र सिंह पुत्र अमर जीत सिंह ने कहा कि उसकी बहन जसवीर कौर उर्फ सिमरन कौर की शादी वर्ष 2005 में ग्राम शेरगढ़ बहादर नगर थाना अफजलगढ़ जिला बिजनौर (उत्तर प्रदेश) निवासी हरविंदर सिंह पुत्र चरनजीत सिंह के साथ सिख रीति रिवाज के अनुसार हुई थी। शादी के दौरान सामथ्र्य अनुसार दान दहेज भी दिया गया था। शादी में कम दहेज मिलने के ताने देकर ससुराल वाले उसकी बहन को आये दिन प्रताड़ित करते रहते थे, करीव तीन महीने पूर्व उसकी बहन के साथ ससुरालियों ने कई बार मारपीट की। ससुराल में झगड़ा होने के बाद उसकी बहन ने थाना अफजलगढ़ में 100 नंबर पर डायल कर मारपीट की शिकायत दर्ज कराकर जैसे-तैसे कर अपनी जान बचाई थी।

उसने यह भी आरोप लगाया कि पूर्व में भी उसकी बहन को दहेज की मांग पूरी न करने पर उसके साथ मारपीट कर उसको जलाने का प्रयास किया गया था। रिपोर्ट में उसने कहा कि कई बार पंचायतें कर उसके ससुराल वालों को समझाया गया। लेकिन वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आए और लगातार पैसों की मांग करते थे। उसने कहा कि एक पखवाडे पूर्व उसकी बहन अपने मायके आई थी और एक सप्ताह रहकर वह वापस अपनी ससुराल चली गई थी। जिसकी लाश 12 फरवरी की रात्रि साढ़े आठ बजे हाईवे के भीतर एलबीएस काॅलेज महुआडाबरा के निकट स्थित निर्माणाधीन पुलिया के पास गन्ने के खेत में मृत अवस्था में पुलिस को मिली। उसने अपनी बहन की हत्या का शक करते हुए उसके पति हरविंदर सिंह, ससुर चरनजीत सिंह, सास राणो कौर, देवर हरजीत सिंह उर्फ बाऊ के खिलाफ तहरीर देकर धारा 302, 201 के तहत हत्या का मुकदमा दर्ज कराया।

कोतवाल उमेद सिंह दानू ने बताया कि मृतक जसवीर कौर की मौत दम घुटने की वजह से हुई है तथा पोस्टमार्टम रिपोर्ट में 12 से 36 घंटे के बीच में मौत का होना दर्शाया गया है। उन्होंने बताया कि घटनास्थल से पुलिस को एक मोबाइल, पर्स और एक जूता मिला है। पुलिस घटना के खुलासे को लेकर कोतवाली अंतर्गत लगे सभी सीसीटीवी कैमरो की फुटेज खंगाल रही है।

एसएसआई ललित मोहन जोशी ने बताया कि घटना के खुलासे को लेकर एसओजी टीम भी लगी हुई है। पुलिस ने अब तक एक दर्जन संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की है। पुलिस मामले की तह तक पहुंचने के लिए हर पहलू जांच कर रही है । कोतवाल ने घटना का शीघ्र ही खुलासा करने का दावा किया है।

वहीं आज एएसपी राजेश भट्ट ने कोतवाली पहुंचकर पूरे मामले की जानकारी ली तथा संदिग्धों से पूछताछ की और पुलिस को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

प्रेम प्रसंग में कहासुनी में युवक ने अपने को गोली मारकर कर ली आत्महत्या     |     बहुचर्चित ‘सिमरन’ हत्याकांड का वांछित अभियुक्त गिरफ्तार : कोतवाल     |     रामनगर पुलिस की सक्रियता के चलते टला बड़ा हादसा, पुलिस की घेराबंदी से घबराये गाड़ी छोड़ भागे हथियारबंद बदमाश     |     नसबंदी अभियान: मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार चली इंदिरा की राह?     |     धार्मिक संस्थानों पर लगे लाउडस्पीकरों की आवाज कम करने को लेकर बैठक     |     प्रेमिका से मिलने गए छात्र की 20-25 लड़कों ने चाकू से गोद कर हत्या     |     दिल्ली से देहरादून के लिए चलेगी तेजस ट्रेन     |     पाकिस्तान पहुंच गए शत्रुघ्न सिन्हा     |     नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) भारत का ‘आंतरिक मामला’ : शेख हसीना     |     देश के हर घर में चर्चा का विषय बने जूली और मटुकनाथ अब नही है एक साथ, मरणासन्न हालत में हैं जूली, मटुकनाथ नहीं कर रहे कोई मदद     |    

WhatsApp us