चंबल नदी पार करते हुए 30 लोगों से भरी नाव पलटी, 5 के शव मिले, 10 लापता

अक्षित पत्रिया
कोटा (महानाद) : राजस्थान के कोटा जिले के इटावा के समीप बुधवार सुबह सुबह बहुत बड़ा हादसा हो गया। जिससे पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई।

क्षेत्र के खातोली गांव में चंबल नदी पार करते समय हुए हादसे में एक नाव डूब गई। जिस समय नाव डूबी उस समय नाव में तककरीबन 30 जने सवार बताए जा रहे हैं। इस हादसे में कुल लोगो मे से 5 के शव मिल गए हैं, जबकि करीब 10 लोग लापता हैं। जिनकी तलाश जारी है। नाव में 14 बाइक भी नदी पार करवाने के लिए रखीं थीं।

जब नाव डूब रही थी तब आस-पास के लोगों ने ग्रामीणों की मदद से डूब रहे लोगों को बचाने का काफी प्रयास किया,परन्तु बड़ी संख्या में लोग नदी के तेज बहाव में बह गए।

ये बड़ा हादसा कोटा जिले के इटावा इलाके के खतोली गांव के पास हुआ है, नाव में ज्यादातर लोग कमलेश्वर धाम जाने के लिए नाव में बैठे थे। इस बड़ी घटना के तुरंत बाद मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने डूब रहे लोगों को बचाने प्रयास किया। लेकिन, बड़ी संख्या में लोग नदी के तेज बहाव के कारण बह गए। क्षेत्र के गोठला कला के पास कमलेश्वर धाम जाने के लिए ज्यादातर लोग नाव में सवार हुए थे। घटना का पता चलते ही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे।

स्थानीय लोगो ने कमलेश्वर धाम जाने के लिए लोग नाव में बैठकर चंबल नदी पार करते समय नाव में क्षमता से अधिक लोग बैठाने के साथ ही मोटरसाइकिल रखी होने के चलते नदी के बीच में नाव असंतुलित होकर पलट गई। जिस जगह नाव पलटी वह चाणदा व गोठड़ा गांव के बीच का क्षेत्र है। मौके पर पहुंचकर गोताखोर की टीम ने सर्चिंग ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है।

आस-पास के लोगों ने बताया कि लकड़ी की नाव की हालत पहले से खराब थी। जिसमें क्षमता से ज्यादा यात्रियों को बैठाया गया था। साथ ही नदी पार करवाने के लिए नाव के साथ मोटरसाइकिल भी बांध दी गई थीं। जिसके कारण नाव वजन नहीं सह ना सकी और डूब गई।

स्थानीय पुलिस ने बताया कि जानकारी मिलते ही पूरा प्रशासन मौके पर पहुंच गया। ग्रामीणों की मदद से शवों को बाहर निकाला गया है। लोगों ने बताया कि सुबह नाव पलटने की खबर मिली तो दौड़कर नदी किनारे पहुंचे।

इस बड़ी घटना को लेकर कोटा जिला सांसद एवं लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने प्रशासन से मामले को लेकर घटना की जानकारी लेकर लोकसभा सचिवालय ने जिला प्रशासन से स संपर्क किया एवं कोटा से एसडीआरएफ टीम को मय जाप्ते को मौके के लिए तुरन्त रवाना कर दी गई है। लोकसभा अध्यक्ष कार्यालय जिला प्रशासन से लगातार संपर्क बनाए हुए हैं। एवं मामले की जानकारी ले रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp us