रेलवे ने बदल दिये टिकट बुकिंग और रिजर्वेशन चार्ट के नियम

रेलवे ने बदल दिये टिकट बुकिंग और रिजर्वेशन चार्ट के नियम

नई दिल्ली (महानाद) : इंडियन रेलवे टिकट बुकिंग और रिजर्वेशन चार्ट को लेकर नियम बदल दिये हैं। इन बदलावों से यात्रियों को अचानक ट्रेन टिकट बुकिंग के लिए पहले की तुलना में ज्यादा समय मिलेगा। अब ट्रेन के स्टेशन से निकलने से 30 मिनट पहले यात्री टिकट बुकिंग कर सकेंगे।

बता दें कि त्योहारों को देखते हुए रेलवे ने 20 अक्टूबर 2020 से 392 स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया है। ये फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें कोलकाता, लखनऊ दिल्ली, पटना, वाराणसी से चलेंगी ताकि दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली, छठ पूजा पर यात्रियों की जबरदत मांग को पूरा किया जा सके। फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों के साथ ही लाॅकडाउन के बाद शुरू की जा चुकीं ट्रेनों के लिए आरपीएफ ने सख्त नियम लागू किए हैं।

विदित हो कि कोरोना काल से पहले के नियम के तहत, पहला रिजर्वेशन चार्ट ट्रेन खुलने के 4 घंटे पहले तैयार होता है। इसके बाद इंटरनेट या पीआरएस सिस्टम के तहत उपलब्ध बुकिंग पहले-आओ, पहले-पाओ आधार पर होती थी। यह बुकिंग दूसरे रिजर्वेशन चार्ट बनने से पहले तक होता था।

रेलवे के इस नए नियम का फायदा उन यात्रियों को होगा जो अचानक कहीं जाने के लिए निकलते हैं। ऐसे यात्रियों के लिए ट्रेन के खुलने से 30 मिनट पहले तक आॅनलाइन और पीआरएस टिकट काउंटरों से टिकट बुकिंग की सुविधा होगी।

बता दें कि रिजर्वेशन चार्ट ट्रेन खुलने के 30 से 5 मिनट पहले तक तैयार किया जाता था। इस दौरान रिफंड नियमों के तहत पहले से बुक किए गए टिकटों को कैंसिल कराने की भी अनुमति होती थी। कोरोना वायरस महामारी की वजह से दूसरे रिजर्वेशन चार्ट के नियमों में बदलाव गया था। लेकिन दोबारा से नियम में बदलाव करते हुए, अब फिर से दूसरा रिजर्वेशन चार्ट ट्रेन छूटने के समय से 30 मिनट पहले बनेगा। वहीं, दूसरा चार्ट तैयार होने से पहले टिकट बुकिंग की सुविधा आॅनलाइन और पीआरएस टिकट काउंटरों पर उपलब्ध रहेगी। ट्रेन छूटने से 30 मिनट पहले चार्ट बनाने की तकनीक को बहाल करने के लिए रेल सूचना प्रणाली केंद्र साॅफ्टवेयर में आवश्यक संशोधन कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp us