पंजाब के सांसदों और कै. अरिंदर सिंह की राय को दरकिनार कर नवजोद सिंह सिद्धू बने पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष

पंजाब के सांसदों और कै. अरिंदर सिंह की राय को दरकिनार कर नवजोद सिंह सिद्धू बने पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष

पंजाब/नई दिल्ली (महानाद) : कांग्रेस आलाकमान ने पंजाब के मुख्यमंत्री कै. अमरिंदर सिंह तथा पंजाब के कांग्रेसी सांसदों की राय को दरकिनार कर नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष बना दिया है। सिद्धू वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ की जगह लेंगे। वहीं उनके साथ-साथ चार कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष (संगत सिंह गिलजियां, कुलजीत नागरा, पवन गोयल तथा सुखविंदर डैनी) भी बनाए गए हैं।

अध्यक्ष बनने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू सीधे पटियाला पहुंचे और दुखनिवारण साहिब गुरुद्वारा जाकर मत्था टेका।

बता दें कि सिद्धू प्रदेश अध्यक्ष बनने में तो कायाब हो गये हैं लेकिन उनके कंधे पर बड़ी जिम्मेदारियां हैं। प्रदेश के मुखिया कै. अमरिंदर सहित उनके खेमे के सभी सांसदों और पार्टी पदाधिकारियों और उनके समर्थकों को मनाना है। अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में एक बार फिर पार्टी को सत्तासीन भी करना है।

बता दें कि रविवार को कांग्रेस सांसद प्रताप सिंह बाजवा के घर पर पंजाब के मुख्यमंत्री कै. अमरिंदर सिंह कैंप के सांसदों की एक बैठक आयोजित कर आलाकमान से मांग की थी कि सिद्धू को प्रदेश अध्यक्ष न बनाया जाये। सांसदों ने नवजोत सिंह सिद्धू को ‘जोकर’ तक बता दिया था। लेकिन पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी सिद्धू को प्रदेश अध्यक्ष बनाये जाने के पक्ष में थीं। वहीं पार्टी आलाकमान के इस कदम को खुद मुख्त्यार हो चले कै. अमरिंदर सिंह के पर कतरने के तौर पर भी देखा जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp us