जसपुर : किसान सतीश ने जताया आभार, टिकैत ने पहनाई टोपी

जसपुर : किसान सतीश ने जताया आभार, टिकैत ने पहनाई टोपी

भाकियू करेगी लोकसभा का घेराव- सहोता

पराग अग्रवाल
जसपुर (महानाद) : राष्ट्रीय राज मार्ग में आई भूमि का मुआवजा दिलाने पर ग्राम गढ़ी हुसैन निवासी किसान सतीश कुमार ने गाजीपुर बॉर्डर पर पहुंच कर भारतीय किसान यूनियन का आभार प्रकट किया। यहां भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने किसान यूनियन की टोपी पहना कर किसान को यूनियन की सदस्यता दिलाई।

यहां बता दें कि सतीश कुमार की 5 बीघा जमीन राष्ट्रीय राजमार्ग (फोरलेन) में अधिग्रहीत की गई थी। भूमि अधिग्रहण के 5 वर्ष बाद भी उसको भूमि का मुआवजा नहीं मिला था। राजस्व अधिकारियों ने भूमि का मुआवजा गदरपुर निवासी एक किसान के खाते में ट्रांसफर कर दिया था। किसान ने उच्च न्यायालय की शरण ली थी। उच्च न्यायालय के आदेश के बावजूद भी किसान को मुआवजा देने में राजस्व अधिकारी टालामटोली कर रहे थे। जिसके बाद भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन कर राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण रोक दिया था। एक सप्ताह तक चले आंदोलन के बाद किसान को राजस्व अधिकारियों ने पीड़ित सतीश कुमार को कार्यालय बुलाकर मुआवजे का चेक सौंप दिया था।

पीड़ित किसान सतीश कुमार ने भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष प्रेम सहोता के साथ गाजीपुर दिल्ली बॉर्डर पहुँच कर यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैट से मिलकर भारतीय किसान यूनियन का आभार प्रकट किया। यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने उन्हें सदस्यता ग्रहण कराकर किसान यूनियन की टोपी पहनाई।

इस अवसर पर दीदार सिंह, इंद्रपाल सिंह, जागीर सिंह, जसवंत सिंह मुख्तार सिंह, शीतल सिंह, बलदेव सिंह आदि मौजूद रहे।

… उधर संयुक्त किसान मोर्चे द्वारा प्रस्तावित 22 जुलाई को लोकसभा के मानसून सत्र में लोकसभा के घेराव में भी शामिल होंगे। 5 सितंबर को मुजफ्फरनगर, यूपी में हो रही किसान पंचायत में भी शामिल होंगे। भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष प्रेम सिंह सहोता ने गाजीपुर दिल्ली बॉर्डर से वापस लौट कर सुभाष चौक के निकट किसान नेता इंद्रपाल सिंह के आवास पर आयोजित पत्रकार वार्ता में कहा कि 17 जुलाई को किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए उनके साथ डेढ़ सौ से अधिक किसान गए थे। संयुक्त किसान मोर्चे के नेतृत्व में लोकसभा के मानसून सत्र में 22 जुलाई से 200 किसान प्रतिदिन घेराव करेंगे। उन्होंने भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत से जिले के किसानों को  शामिल करने का अनुरोध किया है। उनके साथ सभी अपनी आईडी फोटो आदि लेकर गए थे।

राकेश टिकैत ने उन्हें आश्वासन दिया है, घेराव में उनके जिले का नंबर आने पर उन्हें किसानों को भेजने की सूचना पूर्व में दे दी जाएगी। भारतीय किसान यूनियन की 5 सितंबर को मुजफ्फरनगर यूपी में  प्रस्तावित किसान महापंचायत में शामिल होने के लिए उनके जिले से हजारों की संख्या में किसान जाएंगे। उन्होंने कहा कि पूरे देश के किसानों की समस्याओं के बारे में उन्होंने चर्चा की है। उत्तराखंड ऊर्जा प्रदेश है। ऊर्जा प्रदेश में किसानों के ट्यूबेल को फ्री बिजली देने, काशीपुर चीनी मिल के गन्ना मूल्य का किसानों को भुगतान कराए जाने की मांगों को राष्ट्रीय स्तर पर उठाए जाने का भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने आश्वासन दिया है। उन्होंने क्षेत्र के किसानों से लोकसभा के घेराव में शामिल होने के लिए अपने फोटो आईडी तैयार करने को कहा है।

इस अवसर पर शीतल सिंह, मुख्तार सिंह, दीदार सिंह, जागीर सिंह आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp us