योगी के बुलडोजर ने दिल्ली में खाली कराई जमीन, रोहिंग्या मुसलमानों ने कर रखा था अवैध कब्जा

योगी के बुलडोजर ने दिल्ली में खाली कराई जमीन, रोहिंग्या मुसलमानों ने कर रखा था अवैध कब्जा

लखनऊ/नई दिल्ली (महानाद) : योगी आदित्यनाथ के बुलडोजर ने रोहिंग्या मुसलमानों द्वारा कब्जा रखी जमीन को दिल्ली में जाकर खाली करा लिया।

बता दें कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पुलिस प्रदेश में तो सरकारी जमीनों से अवैध कब्जे हटाने के लिए लगातार अभियान चला ही रही है। लेकिन अब योगी का बुलडोजर पड़ोसी राज्य में भी चलने लगा। योगी की पुलिस ने दिल्ली में अपनी जमीन का अवैध कब्जा हटाने के लिए रोहिंग्याओं द्वारा बनाई गई अवैध बस्ती पर बुलडोजर चलाकर उसे खाली करा लिया।

बता दें कि दिल्ली के मदनपुर खादर में श्मशान घाट के सामने उत्तर प्रदेश की सिंचाईं विभाग की 2.10 हेक्टेयर जमीन पर बने रोहिंग्याओं ने कब्जा करके अपनी पूरी बस्ती बना ली थी। आरडब्ल्यूए ने दिल्ली पुलिस से रोहिंग्या मुसलमानों द्वारा बनाई गई अवैध बस्ती को हटाने की मांग की लेकिन दिल्ली पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। और तो और दिल्ली सरकार द्वारा इन्हें सभी सरकारी सुविधायें दी जा रहीं थी। वहीं लॉकडाउन के दौरान दिल्ली सरकार और ओखला विधायक अमानतुल्लाह खान की ओर से इन कैंपों में राशन सामग्री भी मुहैया करवाई जा रही थी।

आखिरकार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ा कदम उठाते हुए अपनी पुलिस के साथ बुलडोजर को वहां भेजा और सिंचाईं विभाग की लगभग 150 करोड़ रुपये कीमत की जमीन को रोहिंग्या मुसलमानों के कब्जे से खाली करा लिया।

यूपी सरकार के जलशक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह ने अपनी सरकार द्वारा लिए गये इस एक्शन का वीडियो ट्वीट कर लिखा ‘दिल्ली में फिर से चला योगी का बुल्डोजर, योगी सरकार की दिल्ली में बड़ी कार्यवाही, मदनपुर खादर में सुबह 4 बजे ही कार्यवाही कर सिंचाई विभाग की भूमि पर अवैध कब्जे से रोहंगिया केम्पों को हटाया गया एवं अवैध कब्जे तोड़े गए, उ.प्र.सिंचाई विभाग की 2.10 हेक्टेयर जमीन मुक्त कराई।

जानकारी के मुताबिक, आने वाले वक्त में अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत शीघ्र ही और बड़े एक्शन लिए जाएंगे। बता दें कि उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग की दिल्ली में के ओखला, आली, सैदाबाद, जैतपुर, जसोला, मदनपुर खादर, मोलरवंद व खुरेजी खास में जमीनें हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp us