नादेही चीनी मिल में गन्ने की ट्राली हटाने को लेकर विवाद, पुलिस ने तोड़ी ट्रैक्टर की लाइटें

पराग अग्रवाल

जसपुर (महानाद) : नादेही में राज्य राजमार्ग पर बेतरतीब खड़ी ट्रालियों को हटवाने को लेकर हुए विवाद में पुलिस ने तीन चार ट्रालियों की लाइटें फोड़कर टायरों की हवा निकाल दी। विरोध कर रहे एक किसान के हाथ में पुलिस ने डंडा मार कर घायल कर दिया। इससे मिल गेट पर हंगामा हो गया।

आक्रोशित किसानों के साथ घायल किसान मिल चेन पर बैठ गया। इससे मिल को करीब डेढ़ घंटा बंद करना पड़ा। बाद में पूर्व विधायक डा. सिंघल ने मौके पर पहुंचकर मिल को शुरू कराया। आक्रोशित किसान पुलिस चौकी इंचार्ज को हटाने की मांग कर रहे थे। सूचना पर जीएम और एएसपी भी मौके पर पहुंच गए थे।

रविवार देर शाम को नादेही चीनी मिल द्वारा अधिक पर्चियॉ जारी करने पर गन्ने से भरी अधिक ट्रालियॉ आ गई। पूरे दिन में करीब अस्सी ट्रालियों की तौल की गई। जबकि एक सौ ट्रालियॉ लाइन में राज्य मार्ग पर खड़ी थी।

बताते है कि सड़क पर ट्रालियों के खड़े होने से मार्ग पर जाम की स्थिति बन गई। जाम खुलवाने को पुलिस ने ट्रालियों को हटवाना शुरू कर दिया। इस बीच पुलिस ने कुछ ट्रालियों की हवा निकाल दी। किसानों ने हवा निकालने को मना किया। आरोप है कि पुलिस ने तीन से चार ट्रालियों की हेड लाइटों पर डंडे मारकर तोड़ दिया। इससे किसानों का आक्रोश आ गए। वह पुलिस कार्रवाई का विरोध करने लगे। अारोप है कि इस बीच पुलिस ने ग्राम रामनगरवन निवासी संदीप चौहान के हाथ में डंडा मार दिया। डंडा लगने के बाद किसान गुस्सा गए।

घायल किसान अन्य किसानों को लेकर मिल चेन पर पुहंच गया। तथा मिल को रोक दिया। मिल करीब डेढ़ घंटें बंद रही। इस बीच कोई मिल कर्मी किसान की सुध लेने नहीं पहुंचा। सूचना पर आये पूर्व विधायक डा. शेलेंद्र मोहन सिंघल, एएसपी राजेश भट्ट, पुलिस उपनिरीक्षक जीएस अधिकारी ने घायल का हाल जाना। पूर्व विधायक ने घायल को समझाकर उसे चेन से उठाकर मिल को शुरू कराया। साथ ही सीमए त्रिवेंद्र रावत को घटना से अवगत कराया।

किसानों ने बताया कि पूर्व में भी पुलिस कई बार इस तरह की हरकत कर चुकी है। किसानों ने चौकी इंचार्ज को हटाने की मांग की। इस बीच जीएम चन्द्र सिंह इमलाल भी मिल में पहुंच गए। तथा घायल किसान एवं अन्य किसानों से वार्ता की। किसानों ने एएसपी एवं जीएम से पुलिस चौकी इंचार्ज को हटाने एवं व्यवस्था दुरूस्त कराने की मांग की। जीएम सीएस इमलाल ने बताया किअधिक ट्राली आने से ऐसी स्थिति बनी है। पुलिस एवं किसानों की गोष्ठी कर व्यवस्था को दुरूस्त कराया जायेगा।

चौकी इंचार्ज प्रकाश बिष्ट ने बताया कि रोड पर जाम लगा हुआ था। व्यवस्था बनाने को दो ट्रालियों की हवा निकाली गई है। बिष्ट ने डंडा मारने के आरोप को सिरे से नकार दिया। एएसपी ने चौकी इंचार्ज के स्थानांतरण का आश्वासन दिया।

यहॉ सुरेंद्र सिंह चौहान, चौ. व्रजवीर सिंह, मनोज चौहान, ब्रहमानंद, दीपक अरोरा, अनिल नागर, विकल चौहान, अंकुर सक्सेना, सुधीर विश््नोई, आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

प्रेम प्रसंग में कहासुनी में युवक ने अपने को गोली मारकर कर ली आत्महत्या     |     बहुचर्चित ‘सिमरन’ हत्याकांड का वांछित अभियुक्त गिरफ्तार : कोतवाल     |     रामनगर पुलिस की सक्रियता के चलते टला बड़ा हादसा, पुलिस की घेराबंदी से घबराये गाड़ी छोड़ भागे हथियारबंद बदमाश     |     नसबंदी अभियान: मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार चली इंदिरा की राह?     |     धार्मिक संस्थानों पर लगे लाउडस्पीकरों की आवाज कम करने को लेकर बैठक     |     प्रेमिका से मिलने गए छात्र की 20-25 लड़कों ने चाकू से गोद कर हत्या     |     दिल्ली से देहरादून के लिए चलेगी तेजस ट्रेन     |     पाकिस्तान पहुंच गए शत्रुघ्न सिन्हा     |     नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) भारत का ‘आंतरिक मामला’ : शेख हसीना     |     देश के हर घर में चर्चा का विषय बने जूली और मटुकनाथ अब नही है एक साथ, मरणासन्न हालत में हैं जूली, मटुकनाथ नहीं कर रहे कोई मदद     |    

WhatsApp us