सरकार की गाईडलाईन के अनुसार मनाई गई ईद-उल-अजहा

सत्तार अली
रुड़की (महानाद) : जहाँ देश ही नहीं पूरी दुनियां में कोरोना संक्रमण बीमारी ने तांडव मचा रखा है। वहीं दुनिया भर में महोत्सव-पर्व को सभी धर्मों के लोग बड़ी ही सादगी के साथ मना रहे हैं। इसी कड़ी में आज मुस्लिम धर्म के त्योहार ईद-उल-अजहा देश-प्रदेश में बड़ी सादगी व आपसी भाईचारा, सौहार्द और प्रेम के साथ मनाया गया।

त्याग, बलिदान के प्रतीक ईद-उल-अजहा पर्व पर आज मुस्लिम समाज के लोगांे ने रुड़की, भगवानपुर, मंगलौर, पिरान कलियर व आसपास के क्षेत्र में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हए मस्जिदों में व अपने-अपने घरों में ही सरकार की गाईड लाईन का पालन कर नमाज अदा कर मनाया। नगर की प्रमुख ईदगाह में मुफ्ती मौहम्मद सलीम ने ईद-उल-अजहा की नमाज अदा कराई तथा खुतबा पढ़ा।

इसके अलावा नगर की प्रमुख जामा मस्जिद में भी सोशल डिस्टेंसिंग के साथ नमाज अदा की गई तथा नगर की अन्य मस्जिदों में भी प्रातः सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुये मुस्लिम समाज के लोगों ने नमाज अदा की। इस दौरान लोगों ने देश में अमन-चैन, शांति तथा विश्व में कोरोना से मुक्ति के लिये विशेष दुआएं की। आज से लगभग साढ़े चार हजार वर्ष पूर्व हजरत इब्राहिम व हजरत इस्माइल की याद में दिए गए त्याग के प्रतीक इस त्यौहार पर मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा जानवरों की कुर्बानी भी दी गई।

मौलाना अरशद कासमी, मौलाना मजहरूल हक, मौलाना नसीम कासमी, शहर काजी अमीर अहमद, मुकर्रबपुर पिरान कलियर की बड़ी जामा मस्जिद के हाफिज दिलशाद अहमद ने भी सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए नमाज अदा की व नमाज के बाद देश प्रदेश में अमनो अमान की दुआ मांगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp us