आज से देहरादून से नहीं चलेगी कोई ट्रेन

Previous Post
Next Post

देहरादून (महानाद) : रेलवे स्टेशन से आज (रविवार) से तीन महीने के लिए ट्रेनों का संचालन बंद हो जाएगा। स्टेशन के यार्ड री मॉडलिंग और प्लेटफार्म विस्तार के चलते रेलवे कई दिन पूर्व इसकी घोषणा कर चुका है।

देहरादून से कोटा के बीच चलने वाली नंदा देवी एक्सप्रेस और नई दिल्ली-देहरादून के मध्य संचालित शताब्दी एक्सप्रेस 23 दिसंबर 2019 तक हर्रावाला स्टेशन तक आएगी और वहां से ही अपने गंतव्य के लिए वापस रवाना हो जाएगी।

24 दिसंबर से छह फरवरी 2020 तक दोनों ट्रेनें हरिद्वार से संचालित होंगी। नंदा देवी एक्सप्रेस का हर्रावाला स्टेशन पहुंचने का निर्धारित समय सुबह पांच बजकर आठ मिनट और वहां से वापसी का समय रात 11 बजकर चार मिनट होगा।

इसी तरह, शताब्दी एक्सप्रेस का हर्रावाला स्टेशन पर पहुंचने का निर्धारित समय दोपहर 12 बजकर 33 मिनट और वहां से वापसी का समय शाम पांच बजकर 11 मिनट रहेगा। इसी तरह हावड़ा एक्सप्रेस, उपासना और नई दिल्ली जन शताब्दी एक्सप्रेस का संचालन हरिद्वार स्टेशन से होगा।

जबकि राफ्ती गंगा एक्सप्रेस का नजीबाबाद, लिंक एक्सप्रेस अलीगढ़ और मदुरै एक्सप्रेस का संचालन सहारनपुर से होगा। बाकी ट्रेनों का संचालन इस अवधि में पूरी तरह से कैंसिल रहेगा।

वहीं, रेलवे ने हर्रावाला ड्यूटी पर जाने वाले गार्ड और टीटीई के लिए देहरादून से हर्रावाला आने-जाने को कार की व्यवस्था की है। एडिशनल स्टेशन सुप्रीटेंडेंट सीताराम सोनकर ने बताया कि मुख्यालय के आदेशों के मुताबिक, ड्यूटी आदि काम किए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

जिले में फंसे प्रवासियों को मिलेगा फ्री राशन, फार्म भरकर गल्ला विक्रेताओं के यहां करें जमा     |     चकरपुर अण्डरपास व स्थाई अग्निशमन केन्द्र निर्माण को सपाईयों ने दिया धरना     |     रोडवेज द्वारा उधम सिंह नगर से यूपी जाने के इच्छुक लोगों की सूची उपलब्ध करवायेंगे सभी उपजिलाधिकारी     |     गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड मे दर्ज हुआ उत्तराखंड में उत्पादित सुगंधित व औषधीय धनिया पौधा     |     फीस / बिल माफी की मांग को लेकर यूथ कांग्रेस ने दिया धरना     |     जसपुर के क्वारंटाइन सेन्टर में परोसा जा रहा है बासी भोजन     |     न की जाये पर्यावरण मित्रों के वेतन में कटौती : अनिल वाल्मीकि     |     राहत : भारत में घटी कोरोना की मारक क्षमता     |     गैरसैंण को उत्तराखंड की राजधानी बनाने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार     |     कुंडा थाने के अधिकतर एसपीओ अनपढ़, कैसे कराएंगे नियमों का पालन     |    

WhatsApp us