फर्जी महिला वकील ने की बार अध्यक्ष सहित वरिष्ठ अधिवक्ताओं से अभद्रता

शिशिर भटनागर
रामपुर (महानाद) : फर्जी अधिवक्ताओं की चेकिंग के दौरान हंगामा हो गया। बार अध्यक्ष और महासचिव को भी इस मामले में संज्ञान लेना पड़ा। फर्जी अधिवक्ता बनी युवती ने बार अध्यक्ष सहित वरिष्ठ अधिवक्ताओं से अभद्रता की। इससे भड़के अधिवक्ता पुलिस अधीक्षक से मिले और युवती पर कार्रवाई की मांग की। बाद में अधिवक्ताओं ने सिविल लाइंस कोतवाली भी घेर ली। सीओ सिटी को तहरीर देकर युवती के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जेल भेजने की मांग की।

आपको बता दें कि हाईकोर्ट अधिवक्ताओं का सत्यापन करा रहा है। सत्यापन में फर्जी अधिवक्ताओं को चिंहित करने का आदेश दिया गया है। हाईकोर्ट ने जिला जज को सत्यापन कराने का आदेश दिया है। जिला जज ने इसके लिए बार को लिखा है। इस पर बार अधिवक्ताओं का रजिस्ट्रेशन चेक कर रही है। शनिवार को बार अध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद लोधी को शिकायत मिली कि एक युवती अधिवक्ता की ड्रेस पहनकर प्रैक्टिस कर रही है, जबकि उसका रजिस्ट्रेशन नहीं है। इस पर बार अध्यक्ष ने युवती से रजिस्ट्रेशन के बारे में पूछताछ की, जिस पर युवती ने हंगामा खड़ा कर दिया।

अधिवक्ताओं कई गंभीर आरोप लगाते हुए एक महिला अधिवक्ता के साथ वह थाना सिविल लाइंस पहुंच गई और कार्रवाई की मांग करने लगी। इसकी जानकारी अन्य अधिवक्ताओं को हुई तो वे भी एकत्र हो गए और उनमें रोष पनप गया। बार अध्यक्ष और महासचिव सतनाम सिंह मट्ठू के नेतृत्व में एकत्र होकर युवती पर कार्रवाई की मांग करने लगे। अधिवक्ता पुलिस अधीक्षक से मिले और घटना की जानकारी दी। एसपी ने मामला सिविल लाइंस थाने को भेज दिया। अधिवक्ता थाने पहुंच गए, जहां सीओ सिटी विद्याकिशोर शर्मा और कोतवाल विजेन्द्र सिंह को घटना बताते हुए तहरीर सौंपी गई। अधिवक्ताओं का कहना था कि युवती फर्जी वकील बनकर लोगों को गुमराह कर रही है, जिसे गिरफ्तार कर जेल भेजा जाए।

बार एसोसिएशन अध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद लोधी ने बताया कि हाईकोर्ट और जिला जज के आदेश पर अधिवक्ताओं का सत्यापन किया जा रहा है। फर्जी अधिवक्ताओं को चिंहित किया जा रहा है। शनिवार को शिकायत मिलने पर एक युवती से रजिस्ट्रेशन की जानकारी गई, जिसके पास रजिस्ट्रेशन प्रमाणपत्र नहीं था। वह काला कोट भी पहने हुए थी। अधिवक्ताओं से अभद्रता भी कर रही थी, जिसके खिलाफ कार्रवाई को पुलिस को तहरीर दी गई है।

बार एसोसिएशन महासचिव सतनाम सिंह मट्ठू ने कहा कि फर्जी अधिवक्ताओं के सत्यापन और कार्रवाई चल रही है। हाईकोर्ट के आदेश पर सत्यापन किया जा रहा है। एक युवती वकील बनकर घूमती है और लोगों को गुमराह करती है। उससे रजिस्ट्रेशन प्रमाणपत्र मांगा गया था, जिस पर उसने अभ्रदता की। उसके खिलाफ पुलिस अधिकारियों से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की गई है।

वहीं सीओ सिटी विद्याकिशोर शर्मा ने कहा कि दोनों पक्षों की शिकायत सुन ली गई है। दोनों पक्षों में समझौते का प्रयास चल रहा है। संभवतः इसमें समझौता हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

युवक ने कंट्रोल रूम में फोन कर समोसे-चटनी मंगाई, डीएम ने करवाई नाले की सफाई     |     पीएम केयर फंड में अंबानी ने दिये 500 करोड़ तो टाटा ने दिये 1500 करोड़     |     खुली रहेंगी निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम में ओपीडी     |     मोर्निंग वॉक क्लब ने बांटी राहत सामग्री     |     पर्यावरण मित्रो को ईओ ने बांटे सुरक्षा उपकरण बांटे गये।     |     गैस डिलीवरी मैन के साथ हादसा होने पर परिवार को मिलेगी 5 लाख की मदद     |     निजामुद्दीन इलाके से 200 लोगों को कोरोना जांच के लिये ले जाया गया     |     पैदल घर जा रहे लोगों की सेवा में जुटा अखिल उपभोक्ता सेवा फाउंडेशन     |     मीनल दखावे भोसले : कोरोना वायरस के ख़िलाफ़ भारत को ‘अहम हथियार’ देने वाली महिला     |     हल्द्वानी, रामनगर, लालकुआं और भीमताल में बनेंगे शेल्टर सेन्टर     |    

WhatsApp us