हिन्दू संगठनों ने एसपी से की विशेष धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर उतरवाने की मांग

हिन्दू संगठनों ने एसपी से की विशेष धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर उतरवाने की मांग

विकास अग्रवाल
काशीपुर (महानाद) : क्षेत्र में मन्दिरों, गुरुद्वारों से लाउड स्पकीर उतरने के बावजूद एक विशेष धर्म के धार्मिक स्थलों द्वारा लगातार लाडडस्पीकर का प्रयोग किये जाने से नाराज हिन्दू सगंठनों के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने आज एसपी प्रमोद कुमार से मिलकर इन लाउडस्पीकरों को उतरवाने की मांग की।

विश्व हिंदू परिषद के जिला मंत्री यशपाल राजहंस के नेतृत्व में विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने एसपी प्रमोद कुमार को एक ज्ञापन सौंप कर बताया कि उच्च न्यायालय के आदेशानुसार क्षेत्र में किसी भी धर्म की इमारतों पर ध्वनि यंत्रों ( लाउडस्पीकर ) का प्रयोग प्रतिबंधित है। समय – समय पर इस संबंध में कोतवाली व थानों में अमन कमेटी की बैठक आयोजित कर विभिन्न धार्मिक संगठनों, धार्मिक संस्थानों व धार्मिक केंद्रों से संबंधित व्यक्तियों को बुलाकर इस विषय को गंभीरतापूर्वक अनुशासन में लाने हेतु पुलिस-प्रशासन के माध्यम से सूचित किया जाता है। परंतु क्षेत्र में ऐसा देखने में आता है कि विशेष धार्मिक इमारतों पर ध्वनि यंत्रों ( लाउडस्पीकर ) का प्रयोग निरंतर किया जा रहा है। संबंधित विषय पर क्षेत्रीय पुलिस अधिकारियों को आॅडियो वीडियो के माध्यम से शिकायत भी की गई है, परंतु स्थिति यथावत बनी हुई है।

राजहंस ने कहा कि उच्च न्यायालय के आदेशानुसार किसी भी धार्मिक इमारत पर लाउडस्पीकर का उपयोग प्रतिबंधित है। यदि अगले 5 दिन के भीतर विशेष इमारतों से लाउडस्पीकर के प्रयोग की पुनरावृति होती है तो 16 अप्रैल 2021 को सभी मंदिरों पर विश्व हिंदू परिषद्/बजरंग दल भी लाउडस्पीकर का प्रयोग करने के लिए विवश होगा।

इस पर एसपी प्रमोद कुमार ने बताया कि उच्च न्यायालय द्वारा लाउडस्पीकरों को प्रतिबंधित नहीं किया गया है। केवल उससे निकलने वाली ध्वनि के डेसीमल को निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा कि मेरे पास डेसीमल नापने का यंत्र नहीं है। ध्वनि प्रदूषण नापने का काम प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का है। तथा उसको क्रियान्वित कराने का काम स्थानीय प्रशासन का है पुलिस का नहीं। जिस पर भाजपा नेता गुरविंदर सिंह चंडोक ने कहा कि इस संबंध में जब भी कोई मीटिंग की जाती है तो उसका आयोजन पुलिस द्वारा किया जाता है। धर्म स्थलों से लाउडस्पीकर उतरवाने भी पुलिस ही जाती है। इसलिए यह उनकी जिम्मेदारी है कि वे सभी जिम्मेदार अधिकारियों को साथ लेकर विशेष धार्मिक स्थलों पर बजाये जाने वाले लाडडस्पीकरों के डेसीमल चेक कर ऐसे लोगों पर कार्रवाई करें जिनके द्वारा उच्च न्यायालय के आदेश की अवहेलना कर रहे हैं।

इस पर एसपी प्रमोद कुमार ने उन्हें आश्वासन दिया कि वे जल्दी ही अधिकारियों के साथ बैठक कर इस विषय में उचित कार्रवाई करेंगे।

इस मौके पर राजीव परनामी, सोनू कुमार, देवेन्द्र आहूजा, हितेश कुमार अजय पाल, कृष्ण कुमार, वैभव, विजय आनन्द, नवीन शर्मा सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp us